आपातकालीन गर्भनिरोधक गोलियों के इस्तेमाल के फायदे नुकसान

Garbh Nirodhak Goli Unwanted 72 Ko Khane Se Kon Kon Se Nuksan

  1. कितनी ख़तरनाक हैं गर्भ निरोधक गोलियां?
  2. अनवांटेड 72 का उपयोग

आपातकालीन contraceptive pills देसी दवाएं हैं। जिन्हें females असुरक्षित यौन संबंध के बाद गर्भ ठहरने की आशंका होने पर लेती हैं। contraceptive pills के लेने से गर्भ ठहरने की संभावना लगभग ना के बराबर रह जाती है। यह medicine किसी भी दुकान पर आसानी से उपलब्ध है। यानी आप इसको किसी भी doctor के परामर्श के बिना किसी पर्ची के बिना भी इसे आसानी से खरीद सकते हैं। contraceptive pills को खाने का कोई time निश्चित नहीं होता है। तथा कोई समय सीमा भी निर्धारित नहीं होती है। लेकिन इन गोलियों के effect बहुत ही कम time के लिए देखने को मिलते हैं। इसलिए इनका use हर time नहीं करना चाहिए। बल्कि आपातकालीन स्थिति में ही करना चाहिए। contraceptive pills में एस्ट्रोजन और प्रोजेस्ट्रोन होते हैं। जो कि body के प्राकृतिक hormone की तरह काम करते हैं। यह अंडाशय को egg पैदा करने से रोकते हैं। अगर doctor की सही परामर्श से medicine ली जाए तो गर्भ निरोध करने के लिए यह सबसे आसान तरीका होता है। इस से pregnancy का खतरा लगभग लगभग 1 परसेंट रहता है।
आपातकालीन contraceptive pills दो प्रकार की होती हैं। हालांकि india में आज के दौर में केवल एक ही गोली market में आसानी से उपलब्ध है। जिसको हम सामान्य भाषा में i Pills या unwanted 72 कहते हैं। आपातकालीन गोली का दूसरा रूप Copper IUD होता है। हालांकि इस को use करने के लिए इसको doctor से लगाना पड़ता है, जो कि असुरक्षित sex के 72 घंटे के भीतर ही जरूरी होता है।
आपातकालीन गर्भनिरोधक से जुड़े फायदे व नुकसान इस प्रकार हैं।
 
आपातकालीन गर्भनिरोधक गोलियों के इस्तेमाल के फायदे-

  1. sex करते समय condom अक्सर कर फट जाते हैं। इसलिए contraceptive pills एक सबसे अच्छा साधन है।
  2. इन गोलियों के होने से एक और फायदा है, कि आप असुरक्षित यौन संबंध कर सकते हैं।
  3. यदि sex के time condom, कॉपर्टी या अन्य कर निरोधक का इस्तेमाल ना किया जाए तू भी इस साधन के द्वारा अनचाही pregnancy से बचा जा सकता है।
  4. जबरदस्ती असुरक्षित संबंध बनाने या बलात्कार के बाद भी इस गोली को दिया जा सकता है। तथा इस problem से बचा जा सकता है।
  5. periods के days की गणना में गलती हो जाने पर आप इन गोलियों को धारण कर सकते हैं।
  6. यह गोलियां स्तनपान कराने वाली माताओं द्वारा भी दी जा सकती है। यह गोलियां स्तन में milk की गुणवत्ता एवं मात्रा को effective नहीं करती और उनका शिशु के विकास पर कोई भी प्रतिकूल effect नहीं पड़ता है।

 
आपातकालीन गर्भनिरोधक गोलियों के नुकसान-
(1) स्तन शिथिलता।
(2) थकान।
(3) सिर दर्द।
(4) पेट दर्द मितली उल्टी ।
(5) चक्कर आना।
(6) गर्भनिरोधक गोलियों के प्रभाव से महिला के महावारी के दौरान रक्तस्राव हल्का सा ज्यादा हो जाता है।

  1. contraceptive pills यौन संचारित रोग से रक्षा नहीं करती हैं।
  2. contraceptive pills मौजूद गर्भावस्था को समाप्त करने में कारगर नहीं होती हैं।
  3. (9)contraceptive pills को नियमित गर्भ निरोध के रूप में use नहीं करना चाहिए। ऐसा करने पर future में गर्भ धारण की क्षमता पर प्रतिकूल effect पड़ता है। हो सकता है,आप future में कभी मा बन सके।
  4. 25 से 45 वर्ष वाली females के लिए यह उपयुक्त है। यह किशोरावस्था की girls के लिए बिल्कुल भी उपयुक्त नहीं होता। क्योंकि इसका use प्रजनन प्रणाली के growth के लिए काफी हानिकारक हो सकता है।
  5. अगर आप किसी बीमारी से पीड़ित हैं, और लंबे time से उसकी दवा ले रहे हैं। तो इन गोलियों का सेवन करने से पहले आप doctor से परामर्श ले लेनी चाहिए।
  6. यह ध्यान रखना चाहिए कि इसका use केवल आपातकालीन स्थिति में करना चाहिए। नियमित रुप से नहीं।
  7. contraceptive pills गोनोरिया, हरपीज बीमारियो से महिला की सुरक्षा नहीं करती हैं।
  8. इन महीने में 2 बार से अधिक नहीं किया जाना चाहिए। ऐसा करने पर आपको future में इसके side effects देखने को मिल सकते हैं।

[read more=”Read more” less=”Read less”]

Top 5 Emergency Contraceptive Pill Brands

aapaatKalin contraceptive pills desi davaen hain. jinhen females asurakshait yaun snbndh ke bad garbh thahrane ki aashnKa hone par leti hain. contraceptive pills ke lene se garbh thahrane ki snbhaonea Lagbahg na ke barabar rah jati hai. Yah medicine kisi bhi duKan par aasani se upalbdh hai. yani aap isako kisi bhi doctor ke pramrsh ke bina kisi parchi ke bina bhi ise aasani se kharid sakte hain. contraceptive pills ko Khane Ka koi time nishchit nahin Hota hai. tatha koi Samay sima bhi nirdharit nahin hoti hai. lekin in goliyon ke effect bahut hi kam time ke lea dekhane ko Milte hain. islea inKa use har time nahin Karna chahiey. balki aapaatKalin sthiti me hi Karna chahiey. contraceptive pills me StaEverydayn aur pEverydayestaron hote hain. jo ki body ke Prakrtik hormone ki tarh Kam karte hain. Yah andaashay ko egg paida karne se rokate hain. agar doctor ki sahi pramrsh se medicine li jae to garbh nirodh karne ke lea Yah Sabse aasan tariKa Hota hai. is se pregnancy Ka khatra Lagbahg Lagbahg 1 parsenta rahta hai.

प्रेग्नेंसी रोकने के 11 घरेलू तरीके Garbh Nirodhak

aapaatKalin contraceptive pills do prKar ki hoti hain. halanki india me Aaj ke daur me keval ek hi goli market me aasani se upalbdh hai. jisako Hum samany Language me i Pills ya unwanted 72 kahte hain. aapaatKalin goli Ka Dusra rup Copper IUD Hota hai. halanki is ko use karne ke lea isako doctor se lagana padta hai, jo ki asurakshait sex ke 72 Hour ke bhitar hi jaruri Hota hai.
aapaatKalin garbhanirodhak se jude fayade v nukasan is prKar hain.
aapaatKalin garbhanirodhak goliyon ke istemal ke fayade-
(1) sex karte Samay condom Aksar kar phat jate hain. islea contraceptive pills ek Sabse Accha sadhan hai.
(2) in goliyon ke hone se ek aur fayada hai, ki aap asurakshait yaun snbndh kar sakte hain.
(3) Yadi sex ke time condom, koparti ya any kar nirodhak Ka istemal na kiya jae tu bhi is sadhan ke Dwara anachhahi pregnancy se bachha ja skata hai.
(4) jabrdasti asurakshait snbndh banane ya balatKar ke bad bhi is goli ko diya ja skata hai. tatha is problem se bachha ja skata hai.
(5) periods ke days ki ganna me galti ho jane par aap in goliyon ko dharan kar sakte hain.
(6) Yah goliyan Breastpaan karane vali mataon Dwara bhi di ja Sakti hai. Yah goliyan Breast me milk ki gunavtta avm matra ko effective nahin karti aur unKa shishu ke viKas par koi bhi pratiCool effect nahin padta hai.

गर्भ निरोधक दवाई लेते समय रहें सावधान

aapaatKalin garbhanirodhak goliyon ke nukasan-
(1) Breast shithilata.
(2) thKan.
(3) sir dard.
(4) Pet dard mitali ulti .
(5) chakkar aana.
(6) garbhanirodhak goliyon ke prabhav se mahila ke mahavari ke dauran raktdischarge halKa sa Jyada ho jata hai.
(7) contraceptive pills yaun sncharit rog se raksha nahin karti hain.
(8) contraceptive pills maujud Garbhavastha ko samapt karne me Kargar nahin hoti hain.
(9)contraceptive pills ko niyamit garbh nirodh ke rup me use nahin Karna chahiey. Aesa karne par future me garbh dharan ki kshamata par pratiCool effect padta hai. ho skata hai,aap future me kabhi ma ban sake.
(10) 25 se 45 varsha vali females ke lea Yah upayukt hai. Yah kishoravastha ki girls ke lea bilkul bhi upayukt nahin Hota. kyonki isKa use prjann pranali ke growth ke lea Kafi haniKarak ho skata hai.
(11) agar aap kisi bimari se pidit hain, aur lnbe time se usaki dava le rahe hain. to in goliyon Ka Seven karne se Pehle aap doctor se pramrsh le leni chahiey.
(12) Yah dhyan rkhana chahiey ki isKa use keval aapaatKalin sthiti me Karna chahiey. niyamit rup se nahin.
(13) contraceptive pills gonoriya, hrapij bimariyo se mahila ki suraksha nahin karti hain.
(14) in mahine me 2 bar se adhik nahin kiya jana chahiey. Aesa karne par Aapko future me Iske side effects dekhane ko mil sakte hain. [/read]

Post Author: sandeepola9

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *